बारिश की मनमानी, गड्ढों की प्रेम कहानी : डीएलए में दिनांक 3 अगस्‍त 2010 को प्रकाशित

पढ़ने के लिए इमेज पर क्लिक, पर आप तो जानते हैं

2 टिप्‍पणियां:

  1. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  2. आपके ब्लॉग के पहले लेख की तिथि ठीक ना होने के कारण ब्लॉग को निलंबित रखा गया है. अगर आप चाहते हैं कि आपके ब्लॉग की सदस्यता फिर से बहाल कर दी जाए, तो कृपया इसकी तिथि ठीक करके फिर से आवेदन करें.

    असुविधा के लिए खेद है.

    टीम हमारीवाणी

    उत्तर देंहटाएं

ऐसी कोई मंशा नहीं है कि आपकी क्रियाए-प्रतिक्रियाएं न मिलें परंतु न मालूम कैसे शब्‍द पुष्टिकरण word verification सक्रिय रह गया। दोष मेरा है लेकिन अब शब्‍द पुष्टिकरण को निष्क्रिय कर दिया है। टिप्‍पणी में सच और बेबाक कहने के लिए सबका सदैव स्‍वागत है।